जो कोई भी ये सोचता है की आदमी के दिल तुक पहुचने का रास्ता उसके पेट से होकर जाता है वो लगबघ 10 इंच ऊपर सोच रहा है|